Breaking News

KYC क्या है..? ये क्यों जरुरी होता है




क्या आपको KYC का मतलब पता है. या बस ऐसे ही हर जगह इसका नाम लेते रहते है. जी हाँ दोस्तों अभी बहुत से ऐसे लोग है जिन्हें kyc का मतलब पता नहीं. बस उन्होंने केवल नाम ही सुना होगा. दोस्तों आज कल हर जगह बस kyc kyc का ही नाम आता है. लेकिन हमें अभी तक भी इसका मतलब नहीं पता चला है. तो आज की पोस्ट में हम आपको kyc की पूरी जानकरी देगे और साथ में ये भी बताएँगे की ये हमारे लिए क्यूँ जरुरी होती है. अगर आप kyc का सही मतलब समझना चाहते है तो इस article को आखिरी तक पढ़ते रहिये. मै सभी पोस्ट की तरह इस पोस्ट से भी उम्मीद करूगां की ये आपको जरुर पसंद आयगी.

KYC का उपयोग हम ज्यादातर सरकारी काम के लिए करते है जैसे की बैंक खुलवाने में या फिर बैंक के किसी अन्य काम में. और kyc का उपयोग हम नया सिम लेने भी उपयोग करते है.  इसके लिए हमें कुछ documents देने होते है. तो इसी को आप kyc समझ सकते है. तो अब हम kyc के बारे में details में जानेगे.



KYC क्या है..? ये क्यों जरुरी होता है 


सबसे पहले आपको ये जानना जरुरी है की kyc का मतलब क्या होता है मेरा मतलब है की kyc का full form क्या होता है. तो मै आपको बता दू की KYC का फुल फॉर्म है "KNOW YOUR CUSTOMER" हिंदी में समझा जाये तो इसका मतलब है की ग्राहक को परखा जाये. बैंक्स या फिर sim कंपनी हमसे इसलिए kyc लेती है की हमारी sim को या फिर बैंक एकाउंट्स को कौन उपयोग कर रहा है. अगर कम्पनी के पास आपका रिकॉर्ड नहीं रहेगा तो use कैसे पता चलेगा की ये account या फिर sim को कौन उपयोग कर रहा है. अगर ऐसा हो जाये तो लोग दुरूपोग शुरू हो जाता है. इसलिए किसी भी सरकारी काम के लिए या फिर किसी सर्विस के लिए kyc होना बहुत ही ज्यादा जरुरी है 

अगर आप किसी भी सर्विस का MISUSE करते है तो आप kyc के जरिये पकडे जा सकते है इसलिए अब kyc अनिवार्य हो गयी. अगर आपका बैंक में कोई पुराना खाता है तो बैंक वाले आपसे फिर से kyc update करने के लिए बोला होगा.

तो दोस्तों अब हम जानते है kyc के अंतर्गत कौन कौन से documents आते है.

kyc के अंतर्गत ऐसे documents आते है जो आपको पहचान की पुष्टि कर सके. ये documents GOV VERIFIED होने चाहिए तो अब हम आपको बताते है कौन से है ये documents




1. Passport
2. Driving License
3. Adhar Card/Adhar Letter
4. PAN Card
5. Voter ID Card

तो दोस्तों ये थे kyc documents जिनसे आपके एड्रेस वेरीफाई हो सकता है. उम्मीद करता हूँ की अब आप kyc को अच्छे से समझ चुके है.



अगर आपका पुराना बैंक account है तो आप kyc फॉर्म लेकर update करवा सकते है. जिससे भविष्य में आपको ही सहूलियत मिलेगी.

उम्मीद करता हूँ ये छोटा article आपको पसंद आया होगा. अगर पसंद आया हो तो शेयर करना न भूलें. अब मिलता हू एक नए interesting से टॉपिक में 

1 comment:

  1. trick4inspire.blogspot.com im blog designer i help you for your blog disignig for free thank you

    ReplyDelete

अपनी राय यहाँ पर दे